Life of a Bureaucrat in 2 lines

Life_of_Bureaucrat

“मुक्तसर सी जिंदगी के अजब से अफसाने हैं

यहाँ तीर भी चलाने हैं और परिन्दें भी बचाने हैं “

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *